anant tv

 अवैध खनन मामले में ED की मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से रांची में पूछताछ जारी है

 
sd

 अवैध खनन मामले में ED की मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से रांची में पूछताछ जारी है। मुख्यमंत्री से पूछताछ के लिए 100 सवालों की लिस्ट तैयार की गई है। इसके लिए बकायदा दिल्ली से अफसरों की टीम रांची पहुंची है। इन सवालों में 1000 करोड़ के अवैध खनन का मामला। मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़े सवाल शामिल हैं। साथ ही उनके विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा के घर से मिले दस्तावेजों के संबंध में भी सवाल किए जाएंगे। ईडी ऑफिस में दो-ढाई घंटे से मुख्यमंत्री ने पूछताछ हो रही है। इधर ED की पूछताछ से पहले सोरेन ने ED, केंद्र सरकार और राज्यपाल को घेरा है। CM ने कहा कि समन की ऐसी कार्रवाई चल रही है, जैसे मैं देश छोड़कर जाने वाला हूं। हेमंत सोरेन ने कहा कि ये सब सरकार को अस्थिर करने की कोशिश हो रही है। चुनाव आयोग की ओर से भेजा गया लिफाफा आज तक राज्यपाल ने नहीं खोला। राज्यपाल सरकार गिराने की कोशिश में लगे लोगों को संरक्षण दे रहे हैंं।

सोरेन ने अपने ऊपर लगे आरोपों को गलत बताया है। उन्होंने कहा कि ऐसे समन भेजे जा रहे हैं। जैसे मैं देश छोड़ने वाला हूं। सोरेन ने केंद्र पर सरकार को गिराने की साजिश रचने का आरोप लगाया है। राज्यपाल को घेरते हुए उन्होंने कहा कि वो साजिश रचने वालों का साथ दे रहे हैं। सोरेन ने कहा कि अवैध खनन के मामले में मुझे बुलाया गया है। 1000 करोड़ के घोटाले की जो बात आ रही है, वो कहीं से भी संभव नहीं लगता है। एक हजार करोड़ के घोटाले का जिक्र आया है, इसका आधार कैसे बना यह समझ से परे है। इतने बड़े घोटाले के लिए कितना खनन होगा ये सोचने की जरूरत है। यह आरोप कहीं से संभव नहीं। एजेंसी को पूरी विस्तृत जानकारी होनी चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि चुनाव आयोग की ओर से भेजी गई चिट्ठी पर राज्यपाल अब तक मौन हैं। कई बार बोलने पर ही इसके बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई। मुझे मीडिया के हवाले से पता चलता है कि उन्होंने इस पर दोबारा राय मांगी है। CM ने राज्यपाल पर सरकार के खिलाफ साजिश करने वालों को संरक्षण देने का आरोप लगाया है। 

दरअसल, हेमंत सोरेन के तार अवैध खनन और मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़ने का आरोप है। 8 जुलाई को ED ने हेमंत सोरेन के करीबी पंकज मिश्रा के घर पर छापेमारी की थी। यहां से एजेंसी को हेमंत सोरेन की बैंक पासबुक, साइन किए हुए दो चेक और चेक बुक मिली है। सितंबर में चार्जशीट दाखिल करते हुए ED ने बताया था कि जांच में उसे अवैध खनन में एक हजार करोड़ रुपए से ज्यादा की हेराफेरी होने के सबूत मिले हैं। अब तक ED ने 5.34 करोड़ रुपए की नकदी जब्त की है। बैंक में जमा 13.32 करोड़ रुपए फ्रीज किए गए हैं। इतना ही नहीं 30 करोड़ रुपए का एक जहाज भी जब्त किया गया है। बताया जाता है कि इस जहाज का इस्तेमाल अवैध खनन से निकाले गए पत्थरों को ले जाने के लिए किया जाता था। ED ने अपनी चार्जशीट में लिखा है कि पंकज मिश्रा अवैध खनन में शामिल था और उसने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के निर्देश पर करोड़ों रुपए की हेराफेरी की। इस मामले में पंकज मिश्रा के साथ-साथ बच्चू यादव और प्रेम प्रकाश को भी गिरफ्तार किया गया है।

From around the web