anant tv

राज्यपाल को भेजे ज्ञापन में महिला मोर्चा राजस्थान प्रदेश अध्यक्ष डॉ अलका मूंदड़ा ने कहा कि संपूर्ण राजस्थान में कानून की व्यवस्था की स्थिति बदहाल है

 
df

राज्यपाल को भेजे ज्ञापन में महिला मोर्चा राजस्थान प्रदेश अध्यक्ष डॉ अलका मूंदड़ा ने कहा कि संपूर्ण राजस्थान में कानून की व्यवस्था की स्थिति बदहाल है कानून की खराब स्थिति के कारण राजस्थान का आम नागरिक अपने आप को असुरक्षित सा महसूस करता है। आए दिन होने वाले पेपर लीक, कन्हैया हत्याकांड, खुलेआम घूसखोरी और हाल ही में राजसमंद में हुई मासूम की गैंगरेप जैसी घटनाओं के पीछे का कारण यह है कि अपराधियों में कानून का डर समाप्त होता जा रहा है। उन्होंने कहा कि पिछले 4 सालों में महिलाओं पर अत्याचार दुष्कर्म की घटनाओं में बेतहाशा वृद्धि हुई है। पिछले 4 सालों में ही महिलाओं पर अत्याचारों का आंकड़ा 161000 हो गया है। किसी भी आयु वर्ग की वर्ग की महिलाएं सुरक्षित नहीं है। बहन बेटियों के साथ दुष्कर्म के 27000 से अधिक मामले दर्ज किए गए हैं। इसके अलावा बड़ी संख्या में वह प्रकरण भी है जिनमें बहन बेटियों ने अत्याचार व दुष्कर्म के मामले दर्ज नहीं कराए हैं या पुलिस ने राजीनामे करवा दिए हैं। भाजपा महिला मोर्चा ने राज्यपाल से राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति सशक्त करने और दोषियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई करने की मांग की।

इस अवसर पर उदयपुर ग्रामीण विधायक फूल सिंह मीणा, पूर्व विधायक वंदना मीणा, पूर्व महापौर रजनी डांगी, भाजपा शहर जिला महामंत्री डॉ किरण जैन, महिला मोर्चा प्रदेश कोषाध्यक्ष किरण तातेड़, महिला मोर्चा शहर जिलाध्यक्ष कविता जोशी, विधि प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक एडवोकेट प्रवीण खंडेलवाल आदि ने विचार व्यक्त किए।

From around the web