anant tv

आर्मी डे परेड में पैरा ट्रूपर्स का फ्री फॉल दिखाकर बताया जाएगा कि किस तरह किसी भी ऑपरेशन में सैनिकों को एयरड्रॉप किया जाता है।

 
sd
इस बार 15 जनवरी को आर्मी डे परेड में सिर्फ आर्मी की अलग अलग रेजिमेंट के दस्ते ही मार्च नहीं करेंगे बल्कि पहली बार आर्मी के पैरा ट्रूपर्स का फ्री फॉल भी दिखाई देगा। इसका मतलब है कि पैरा ट्रूपर्स आसमान से छलांग लगाएंगे। इसके अलावा परेड में ड्रोन भी दिखाया जाएगा और दिखाया जाएगा किस तरह ड्रोन के जरिये दूर दराज के विषय भौगोलिक परिस्थिति वाले इलाकों में सैनिकों तक जरूरत का सामान पहुंचाया जा सकता है।

आर्मी डे परेड में पैरा ट्रूपर्स का फ्री फॉल दिखाकर बताया जाएगा कि किस तरह किसी भी ऑपरेशन में सैनिकों को एयरड्रॉप किया जाता है। इसके जरिये सैनिकों को जल्द से जल्द वहां पहुंचाया जा सकता है। खासकर स्पेशल ऑपरेशंस में पैरा ट्रूपर्स को दुश्मन के इलाके में ड्रॉप किया जाता है और वह वहां अपने मिशन को अंजाम देते हैं। आर्मी इन दिनों बड़ी संख्या में ड्रोन भी ले रही है। आर्मी का फोकस अटैक ड्रोन के साथ ही ऐसे ड्रोन पर भी है जो सामान पहुंचा सकें यानी लॉजिस्टिक सप्लाई के काम आ सकें। परेड में दिखाया जाएगा कि ड्रोन के जरिए सैनिकों तक दवाई से लेकर हथियार-गोला-बारूद तक कैसे ड्रॉप करवाया जा सकता है।

भारतीय सेना के इतिहास में पहली बार आर्मी डे की परेड देश की राजनाधी दिल्ली से बाहर हो रही है। हर साल दिल्ली के परेड ग्राउंड में 15 जनवरी को आर्मी डे पर आर्मी डे परेड होती है। इस बार यह परेड बैंगलुरू में मद्रास इंजीनियरिंग ग्रुप के रेजिमेंटल सेंटर ग्राउंड में होगी।

From around the web