anant tv

 पीएम मोदी ने 2 अगस्त से लेकर 15 अगस्त तक लोगों को अपनी डीपी पर तिरंगा लगाने का आग्रह किया

 
as

राष्ट्रीय ध्वज के प्रति सम्मान की भाव हर देशवासी का फर्ज है यही कारण है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने ट्विटर की प्रोफाइल पिक्चर बदलकर तिरंगे का फोटो लगाया है। वहीं भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी अपनी ट्विटर डीपी को चेंज कर लिया है। पीएम मोदी ने 2 अगस्त से लेकर 15 अगस्त तक लोगों को अपनी डीपी पर तिरंगा लगाने का आग्रह किया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘मन की बात’ कार्यक्रम में सभी देशवासियों से 2 से 15 अगस्त तक अपने सोशल मीडिया अकाउंट की प्रोफाइल तस्वीर के रूप में तिरंगा लगाने का आह्वान किया था। पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने रेडियो कार्यक्रम मन की बात के 91वें एपिसोड में यह बात कही थी।


पीएम मोदी ने कहा था कि 2 अगस्त से 15 अगस्त तक, हम सभी, अपनी सोशल मीडिया अकाउंट की डीपी में तिरंगा लगा सकते हैं। 2 अगस्त को पिंगली वेंकैया जी की जन्म-जयंती है, जिन्होंने हमारे राष्ट्रीय ध्वज को डिजाइन किया था। मैं उन्हें, आदरपूर्वक श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। आजादी के अमृत महोत्सव के तहत, 13 से 15 अगस्त तक, ‘हर घर तिरंगा’ का आयोजन किया जा रहा है। वहीं केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने रविवार को लोगों से दो अगस्त से 15 अगस्त के बीच अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर तिरंगा का इस्तेमाल ‘प्रोफाइल’ तस्वीर के तौर पर करने के लिए हर किसी को प्रेरित करने की अपील की। साथ ही उन्होंने लोगों से ‘हर घर तिरंगा’ अभियान में शामिल होने की गुजारिश की।


शाह ने सिलसिलेवार ट्वीट में कहा, ‘तिरंगा देश को जोड़ने के साथ हमें राष्ट्र सेवा के लिए खुद को समर्पित करने हेतु प्रेरित करता है। आजादी के अमृत महोत्सव पर स्वतंत्रता सेनानियों की शौर्यगाथा का यशोगान करते हुए 13 से 15 अगस्त तक हर घर पर तिरंगा फहराने के लिए मोदी जी ने ‘हर घर तिरंगा’ अभियान शुरू किया है।’ आजादी का अमृत महोत्सव के तहत 13 से 15 अगस्त तक चलने वाले केंद्र सरकार के ‘हर घर तिरंगा’ अभियान के मद्देनजर आने वाले दिनों में राष्ट्रीय ध्वज की बिक्री में जोरदार उछाल की उम्मीद है।


व्यापारियों के प्रमुख संगठन कनफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने कहा है कि इस अभियान की वजह से तिरंगे की मांग में जोरदार उछाल की उम्मीद है और व्यापारियों ने इस मांग को पूरा करने के लिए कदम उठाए हैं। असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व सरमा ने रविवार को कहा कि उनकी सरकार लोगों को स्वयं सहायता समूहों या उचित मूल्य की दुकानों (एफपीएस) से राष्ट्रीय ध्वज खरीदने के लिए प्रोत्साहित करके ‘हर घर तिरंगा’ अभियान को ‘जन आंदोलन’ में तब्दील करने की कोशिश कर रही है।

From around the web