anant tv

रेलवे ने बुजुर्गों और बच्चों के लिए किया सबसे बड़ा ऐलान

 
sd

 रेल यात्रियों के लिए खुशखबरी है. अब सफ़र के दौरान आपको आपकी इच्छा के मुताबिक मनपसंद लोकल खाद्य पदार्थ और क्षेत्रीय व्यंजन परोसे जाएंगे. भारतीय रेलवे ने इसके लिए अपनी सब्सिडियरी कंपनी इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन को निर्देश दिए हैं. इसके तहत रेल मंत्रालय ने आईआरसीटीसी को मेन्यू में जरूरी बदलाव करने की छूट दी है ताकि यात्रियों को क्षेत्रीय व्यंजनों और प्राथमिकताओं के आधार पर त्याहारों के दौरान उनकी पसंद के अनुसार भोजन मिलेगा.

इसके अलावा, रेलवे ने ट्रेनों में बुजुर्गों और बच्चों के लिए विशेष भोजन परोसने की बात कही है. इतना ही नहीं, मधुमेह मरीजों के लिए शुगर फ्री भोजन, बच्चों के लिए शिशु आहार, बाजरा आधारित स्थानीय प्रोडक्ट सहित हेल्दी फूड को शामिल किया जाएगा. ताकि यात्रियों को हेल्दी खाना मिल सके.

इस नई सुविधा के तहत जिन प्रीपेड ट्रेनों में कैटरिंग चार्ज यात्री किराए में शामिल है, उनके लिए मेन्यू का निर्धारण IRCTC द्वारा पहले से नोटिफाइड टैरिफ के भीतर किया जाएगा. इसके अलावा इन प्रीपेड ट्रेनों में भोजन के अलग-अलग व्यंजनों और एमआरपी पर ब्रांडेड फूड आइटम्स की बिक्री भी की जा सकेगी. इस तरह के सभी फूड आइटम्स का मेन्यू और टैरिफ IRCTC द्वारा बनाया जाएगा.

आपको बता दें कि यात्रियों को मिलने वाली इस बड़ी सुविधा के लिए अलग से एक्स्ट्रा चार्जेज नहीं जोड़ा जाएगा. यानी रेट लिस्ट पहले वाली ही रहेगी. रेलवे की तरफ से दी गई जानकारी के मुताबिक, मेल/एक्सप्रेस ट्रेनों के लिए, मानक भोजन जैसे बजट कैटेगरी के फूड आइटम्स का मेन्यू पहले से नोटिफाई टैरिफ के भीतर आईआरसीटीसी द्वारा तय किया जाएगा. इसके अलावा, जनता मील्स के मेन्यू और टैरिफ में कोई बदलाव नहीं किया जाएगा. मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों में फूड के अलग-अलग व्यंजनों और MRP पर ब्रांडेड फूड आइटम्स की बिक्री की अनुमति होगी.

From around the web