anant tv

 पुलिस ने आतंकी नेटवर्क के सात सदस्यों को गिरफ्तार किया गया है। इससे जम्मू में लश्कर को झटका लगा है

 
as

जम्मू कश्मीर पुलिस ने जम्मू और रजौरी जिलों में लश्कर-ए-तैयबा के एक आतंकी नेटवर्क का भंडाफोड़ करने का दावा करते हुए प्रतिबंधित संगठन के सात सदस्यों को हिरासत में लिया है। पुलिस ने बताया लश्कर-ए-तैयबा के तीन मॉड्यूलों का भंडाफोड़ होने के बाद जम्मू में आतंक के ज्यादातर मामलों को सुलझा लिया गया है। जम्मू संभाग के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (एडीजीपी) मुकेश सिंह ने बताया कि हमने लश्कर के तीन आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड़ किया है, जो सीमा पार से मिले रहे निर्देशों के अनुसार गतिविधियां कर रहे पर चल रहे थे।


उन्होंने बताया कि पुलिस ने आतंकी नेटवर्क के सात सदस्यों को गिरफ्तार किया गया है। इससे जम्मू में लश्कर को झटका लगा है। उन्होंने बताया कि रजौरी जिले में दो मॉड्यूल का भंडाफोड़ किया गया है और लश्कर-ए-तैयबा के पांच सदस्यों को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने कहा कि जम्मू जिले में एक मॉड्यूल का भंडाफोड़ किया गया और लश्कर-ए-तैयबा के दो सदस्यों को गिरफ्तार किया गया है।


मुकेश सिंह ने बताया कि दो एके राइफल, छह पिस्तौल, तीन साइलेंसर, आठ ग्रेनेड, तीन यूबीजीएल, पिस्तौल की छह मैगजीन, एके राइफल की छह मैगजीन, 120 कारतूस सहित बड़ी मात्रा में हथियार, गोला-बारूद और विस्फोटक बरामद किए गए हैं। उन्होंने कहा कि जम्मू में लश्कर का यह मॉड्यूल शहर के खटीका तालाब इलाके में दो साल से अधिक समय से सक्रिय था। उन्होंने कहा कि यह अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पाकिस्तान की ओर से ड्रोन के जरिए गिराए जा रहे हथियारों और विस्फोटकों को एकत्रित करता था।


पुलिस अधिकारी ने बताया कि इसका संचालन फैसल मुनीर कर रहा था जो खटीका तालाब इलाके का रहने वाला है। उन्होंने बताया कि मुनीर को लश्कर आतंकी बशीर डोडा निर्देश देता था जो फिलहाल पाकिस्तान में है जबकि अन्य आतंकी का कोड नाम अलबर्ट था।

From around the web