anant tv

WBBSE के पेपर पर शुरू हुई कॉन्ट्रोवर्सी केंद्र तक पहुंच गई है। केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने राज्य शिक्षा विभाग को एक पत्र लिखकर इस संबंध में जवाब मांगा है।

 
sd

पश्चिम बंगाल में 10वीं के प्री-बोर्ड एग्जाम में पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (POK) को आजाद कश्मीर बताने को लेकर विवाद खड़ा हो गया है। ऑल बंगाल टीचर्स एसोसिएशन (ABTA) की तरफ से पब्लिश किए गए टेस्ट पेपर में POK की जगह आजाद कश्मीर लिखकर इस पर छात्रों को नोट लिखने को कहा गया। इन सवालों पर विवाद इसलिए हो रहा है क्योंकि कश्मीर के जिस हिस्से को पाकिस्तान ने अपने कब्जे में ले रखा है, उसे भारत पाक अधिकृत कश्मीर (PoK) कहता है। इसी हिस्से को पाकिस्तान ने आजाद कश्मीर का नाम दिया हुआ है। भारत सरकार आजाद कश्मीर नाम को मान्यता नहीं देती है।

ABTA राज्य के वामपंथी स्कूल टीचर्स का संगठन है। इसके जनरल सेक्रेटरी सुकुमार पैन ने माना कि एसोसिएशन के टेस्ट पेपर में ऐसा सवाल पूछा गया था। उन्होंने कहा कि बोर्ड के सिलेबस में इस बारे में रेफरेंस दिया गया है, राज्य सरकार की अप्रूव की गई किताबों में भी इस बारे में रेफरेंस है। इस मामले में कॉन्ट्रोवर्सी चली आ रही है, इसलिए बेहतर होता कि ऐसा सवाल हमारे टेस्ट पेपर में नहीं आया होता। आपको बता दे, WBBSE के पेपर पर शुरू हुई कॉन्ट्रोवर्सी केंद्र तक पहुंच गई है। 

केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने राज्य शिक्षा विभाग को एक पत्र लिखकर इस संबंध में जवाब मांगा है। इस पत्र में कहा गया है कि आजाद कश्मीर का मसला बहुत ही संवेदनशील मुद्दा है और भारत सरकार ‘पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर’ को आजाद कश्मीर के तौर पर मान्यता नहीं देती है। वहीं, मामले की गंभीरता को समझते हुए राज्य शिक्षा विभाग ने इस मामले में आंतरिक जांच शुरू कर दी है।

From around the web