anant tv

अग्निपथ स्कीम के खिलाफ तीसरी याचिका भी सुप्रीम कोर्ट में दायर की जा चुकी है. तीनों याचिकाएं वकीलों ने दाखिल की हैं

 
as

अग्निपथ योजना (Agnipath Scheme) सुप्रीम कोर्ट पहुंच गयी है. खबर है कि अग्निपथ स्कीम के खिलाफ तीसरी याचिका भी सुप्रीम कोर्ट में दायर की जा चुकी है. तीनों याचिकाएं वकीलों ने दाखिल की हैं. विशाल तिवारी, एमएल शर्मा और अब हर्ष अजय सिंह द्वारा याचिकाएं दाखिल की गयी हैं सूचना है कि इसे लेकर केंद्र की मोदी सरकार ने केवियट दाखिल कर दिया है.

कहा है कि कोर्ट इस मुद्दे पर कोई भी निर्णय लेने से पहले केंद्र का पक्ष अवश्य सुने. जान लें कि युवा और कई राजनीतिक संगठन सेना में भर्ती की इस नयी योजना का विरोध कर रहे हैं.उनकी मांग है कि यह योजना लागू ना की जाये. का विरोध थमता नहीं दिख रहा है. केंद्र सरकार सेना में भर्ती के लिए अग्निपथ योजना लायी है. योजना के तहत चार साल के लिए सेना में युवाओं को भर्ती किया जायेगा. शुरुआत में छह माह ट्रेनिंग दी जायेगी. हर बैच के 25 फीसदी अग्निवीरों को भारतीय सेना में स्थाई रूप से (15 साल और) शामिलकर लिया जायेगा. बाकी अग्निवीर रिटायर हो जायेंगे. रिटायर होने पर उनको ळगभग 12 लाख रुपये की जमा राशि मिलेगी.साढ़े 17 साल से लेकर 21 साल तक की उम्र के युवा अग्निपथ योजना में शामिल हो सकते हैं. पहले साल सरकार ने दो साल की छूट भी दी है. यानी इस बार 23 साल तक के युवा आवेदन कर सकते हैं. साल दर साल अग्निवीरों की सैलरी में बढ़ोतरी होगी. सैलरी 30 हजार से शुरू होकर 40 हजार तक हो जायेगी. 

From around the web