anant tv

 डिजिटल करेंसी का प्रयोग आप किसी को भी पेमेंट करने के लिए कर सकेंगे। इसके साथ ही आप इसको कैश और बैंक मनी में भी बदल सकेंगे।

 
sd

 वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण भी जानकारी साझा कर चुकीं है कि कब इसको भारत में लॉन्च किया जाएगा। वहीं, अब भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) भी डिजीटल करेंसी के पायलट प्रोग्राम पर जोर देकर आगे बढ़ा रहा है। बताया जा रहा है कि, इसको सेंट्रल बैंक डिजिटल करेंसी के रूप में जाना जाएगा।

बहुत जल्द इसका प्रयोग रिटेल ट्रांजैक्शन में भी किया जा सकेगा। एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया और आईडीएफसी फर्स्ट बैंक को आरबीआई ने रिटेल डिजिटल करेंसी लाने के लिए शॉर्टलिस्ट किया है। सेंट्रल बैंक डिजिटल करेंसी जल्द ही रिटेल ट्रांजैक्शन के प्रोजेक्ट पर काम भी शुरू करेगा। जिसके बाद भारत की भी अपनी पहली डिजिटल करेंसी होगी।

बताया जा रहा है कि शुरुआत में कुछ ग्राहकों और मर्चेंट के अकाउंट से रिटेल डिजिटल रुपये का पायलट प्रोग्राम शुरू किया जायेगा। जिसके बाद कुछ और बैंकों को इस लिस्ट में शामिल किया जायेगा। जिन बैंकों को रिटेल डिजिटल करेंसी लाने का काम आईबीआई ने दिया है वे देश के सबसे बड़े बैंक हैं जिनकी शाखाएं पूरे देश में फैली हुई है।

बता दे, डिजिटल करेंसी का प्रयोग आप किसी को भी पेमेंट करने के लिए कर सकेंगे। इसके साथ ही आप इसको कैश और बैंक मनी में भी बदल सकेंगे। इसके अलावा आरबीआई इसको यूपीआई से भी जोड़ सकता है। डिजिटल करेंसी को आप इलेक्ट्रॉनिक रूप से अकाउंट में भी देख सकेंगे। वहीं, आपको बता दे, डिजिटल करेंसी का पूरा हिसाब आरबीआई के पास ही होगा।

From around the web