anant tv

तो मिलिए डॉ. सागर से, जिन्होंने  सुपर हिट राजनीतिक ड्रामा, महारानी सीज़न - 2 के लिए शानदार गीत लिखे हैं, और धुन बनाई है रोहित शर्मा ने।

डॉ. सागर अपने शब्दों का चुनाव कुछ इस तरह करते हैं कि जिंदगी की हक़ीक़त आपकी आंखों के सामने घूमने लगती है

 
डॉ. सागर अपने शब्दों का चुनाव कुछ इस तरह करते हैं कि जिंदगी की हक़ीक़त आपकी आंखों के सामने घूमने लगती है


संगीत की मधुरता को बढ़ाने में गीत के शब्दों की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। किसी भी गीत को तैयार करने में उनका बड़ा ही अहम रोल होता है। और गीतों को ऐसे बोल देने वाले एक महान गीतकार, जिनके पास अच्छे और बड़े ही उम्दा गीतों का ख़ज़ाना है, वो और कोई नहीं बल्कि जेएनयू के अपने ही प्यारे गीतकार डॉ. सागर हैं जिनमें साहिर लुधियानवी और शैलेंद्र का रंग दिखाई देता है।

अपनी लेखनी के लिए प्रसिद्ध डॉ. सागर को पूरी तरह पता है कि कैसे अपने भाव और दिल की बात को शब्दों में उतारें। वो उभरते हुए हर नए गीतकार, जो अपने जुनून और सपनों को पूरा करने  के लिए आगे बढ़ना चाहते हैं, के लिए एक प्रेरणा हैं।

डॉ. सागर ने जेएनयू से अपनी पीएच. डी की है। वो अपने बचपन के दिन उत्तर प्रदेश के बलिया ज़िले के एक गांव ककरी में बिताए हैं। ज़िंदगी के शुरुआती दौर में उनको कठिन संघर्ष करने पड़े थे। इस तरह उनका बचपन ग़रीबी और मुश्किलों में बीता। सागर जब बॉलीवुड में आए तो सबसे पहले एक उभरते हुए संगीतकार विपिन पटवा के साथ काम करना शुरू किया।
वर्ष 2017 में डॉ. सागर का नाम बीबीसी और द लल्लन टॉप के टॉप टेन गीतकारों की लिस्ट में शामिल किया गया था। इनको ये सफलता मिली थी 'तितली' नाम के गीत से जिसे स्वर दिया था पपोन ने।

उसके बाद इनके गीत 'बंबई में का बा' ने तो तहलका ही मचा दिया! उस गाने के बोल इतने लोकप्रिय हुए की लोगों ने इसकी तर्ज़ पर 'बिहार में का बा', 'यूपी में का बा' जैसी पैरोडी तैयार कर डाले। वो एक रैप सॉंग था और लोगों ने उसकी वजह से डॉ. सागर पर जो प्यार बरसाया उससे उनके नाम में चार चांद लग गया और फिल्मी दुनिया में उनकी बहुत बड़ी पहचान बनी। 'बंबई में का बा' में प्रसिद्ध कलाकार मनोज बाजपेई ने अभिनय किया है और  बॉलीवुड के जानेमाने डायरेक्टर अनुभव सिन्हा ने इस गीत का निर्देशन किया है। इस रैप को यू ट्यूब पर पिछले एक साल में एक करोड़ से अधिक दर्शकों ने देखा है।उनका एक और प्रसिद्ध गाना है 'सहमी है धड़कन' जिसे आवाज़ दी है आतिफ़ असलम ने। इस गाने को सुधीर मिश्रा के निर्देशन में बनी फिल्म 'दासदेव' में फिल्माया गया है।

डॉ. सागर ने "बॉलीवुड डायरीज़", "अनारकली ऑफ आरा", "मैं और चार्ल्स", "सेटर्स", आदि, जैसी फिल्मों में बड़े ही मधुर गीत लिखे हैं। उन्होंने सुधीर मिश्रा, अनुभव सिन्हा, सुभाष कपूर, नीरज पांडे, इलैयाराजा, सलीम-सुलेमान, अनुराग सैकिया, विपिन पटवा, रोहित शर्मा, बृजेश पंडित, अरिजीत सिंह, जुबिन नौटियाल, राहत फ़तेह अली ख़ान, कैलाश खेर, आतिफ़ असलम, जावेद अली, श्रेया घोषाल और सुनिधि चौहान जैसी प्रसिद्ध हस्तियों के साथ भी काम किया है।

From around the web