anant tv

थलपति विजय की ‘Varisu’ को एक्‍सटेंडेड वीकेंड का फायदा मिला है। बुधवार को तमिल में रिलीज होने के बाद यह फिल्‍म शुक्रवार को हिंदी और तेलुगू में भी रिलीज हुई। 

 
sd

तब्‍बू और अर्जुन कपूर की फिल्‍म ‘कुत्ते’ फर्स्‍ट मंडे टेस्‍ट में बुरी तरह फेल हो गई है। चार दिन में ही इस फिल्‍म की सारी कलई खुल गई है। विशाल भारद्वाज के बेटे आसमान भारद्वाज ने इस फिल्‍म से डायरेक्‍शन में डेब्‍यू किया है, उनकी यह पहली फिल्‍म बॉक्‍स ऑफिस पर डिजास्‍टर साबित हुई है। ‘कुत्ते’ ने सोमवार को महज 65 लाख रुपये का बिजनस किया है और चार दिनों में यह फिल्‍म 4 करोड़ रुपये भी नहीं कमा पाई है। दूसरी ओर, थलपति विजय की ‘वारिसु’ ने 6 दिनों में जहां देश में 100 करोड़ क्‍लब में एंट्री ले ली है, वहीं वर्ल्‍डवाइड इसकी कमाई 150 करोड़ पार कर गई है। अजित कुमार की ‘थुनिवु’ को अभी इस क्‍लब में एंट्री के लिए एक-दो दिन का इंतजार और करना होगा। छह दिनों में ‘थुनिवु’ ने करीब 78 करोड़ रुपये का कलेक्‍शन किया है।

थलपति विजय की ‘Varisu’ को एक्‍सटेंडेड वीकेंड का फायदा मिला है। बुधवार को तमिल में रिलीज होने के बाद यह फिल्‍म शुक्रवार को हिंदी और तेलुगू में भी रिलीज हुई। सोमवार को इस फिल्‍म ने तीनों भाषाओं में Box Office पर कुल 17.00 करोड़ रुपये का कलेक्‍शन किया है। हालांकि, हिंदी में फिल्‍म की कमाई का हाल ‘कुत्ते’ जैसा ही है। बॉलीवुड की ‘Kuttey’ ने सोमवार को जहां 65 लाख रुपये का बिजनस किया, वहीं ‘वारिसु’ ने हिंदी में 70 लाख रुपये कमाए। हिंदी वर्जन में ‘वारिसु’ की कुल कमाई चार दिनों में मात्र 4.35 करोड़ रुपये है। जबकि ‘कुत्ते’ ने चार दिनों में 3.90 करोड़ रुपये का कलेक्‍शन किया है। यानी हिंदी के दर्शकों के लिहाज से देखें तो दोनों ही फिल्‍में डिजास्‍टर साबित हुई हैं।


वामशी पेडिपल्ली के डायरेक्‍शन में बनी ‘वारिसु’ का बजट 280 करोड़ रुपये है। इस फिल्‍म ने देश में 6 दिनों में 104.25 करोड़ रुपये का बिजनस किया है। इसमें सबसे अध‍िक 86.8 करोड़ रुपये की कमाई तमिल वर्जन से हुई है। तेलुगू में फिल्‍म में ने 13.1 करोड़ रुपये कमाए हैं, जबकि हिंदी से 4.35 करोड़ रुपये। ट्रेड एनालिस्‍ट रमेश बाला की रिपोर्ट के मुताबिक, वर्ल्‍डवाइड इस फिल्‍म ने 150 करोड़ रुपये का आंकड़ा पार कर लिया है। सोमवार को कामकाजी दिन रहने के बावजूद सोमवार को साउथ इंडिया के थ‍िएटर्स में ‘वारिसु’ देखने के लिए दर्शकों की लंबी कतार दिखी। तमिल सिनेमाघरों में सोमवार को 100 में से 64 सीटों पर दर्शक नजर आए, जबकि तेलुगू में यह ऑडियंस ऑक्‍यूपेंसी करीब 47 परसेंट थी।

बॉक्‍स ऑफिस पर इस वक्‍त सबसे बुरी हालत में ‘कुत्ते’ है। फिल्‍म का बजट 35 करोड़ रुपये बताया जा रहा है, लेकिन जैसे हालात हैं यह फिल्‍म लाइफटाइम 10 करोड़ के आंकड़े को भी नहीं छू पाएगी। हालांकि, मेकर्स ने जिस तरह से फिल्‍म के प्रमोशन में भारी कटौती की है, लगता है कि वो भी इसे ओटीटी पर रिलीज कर दर्शकों तक पहुंचने का मन बना चुके हैं। सोमवार को सिनेमाघरों में ‘कुत्ते’ की ऑडियंस ऑक्‍यूपेंसी महज 6-6.5 परसेंट थी। यानी सिनेमाघरों में 100 में से 6 सीटों पर ही दर्शक नजर आए।


थाला अजित की फिल्‍म ‘Thunivu’ हिंदी में रिलीज नहीं हुई है। यह फिल्‍म तमिल और तेलुगू में ‘वारिसु’ को टक्‍कर तो दे रही है, लेकिन थोड़ी पीछे है। पोंगल के मौके पर बुधवार को रिलीज हुई ‘थुनिवु’ के लिए अच्‍छी बात यह है कि इसे सोमवार को बहुत ज्‍यादा नुकसान नहीं हुआ है। रविवार को इस‍ फिल्‍म ने 11.9 करोड़ रुपये का कलेक्‍शन किया था। सोमवार को इसकी कमाई 10.8 करोड़ रुपये रही है। छह दिनों में ‘थुनिवु’ ने 78.2 करोड़ रुपये का कलेक्‍शन किया है।

अभी लंबी है वारिसु और थुनिवु के हिट होने की डगर

यहां एक बात गौर करने वाली है कि ‘थुनि‍वु’ का बजट 200 करोड़ रुपये है और ‘वारिसु’ का 280 करोड़। यानी इन दोनों ही फिल्‍मों को हिट होने के लिए इससे अध‍िक की कमाई करनी होगी। ‘वारिसु’ 100 करोड़ क्‍लब में पहुंच चुकी है। जबकि ‘थुनिवु’ बुधवार तक इस क्‍लब का हिस्‍सा बन जाएगी। जिस तरह से बीते साल से दर्शक सिनेमाघरों से दूर हुए हैं, इन दोनों ही फिल्‍मों को हिट होने के लिए अभी मेहनत करनी पड़ेगी।

From around the web