anant tv

बिग बॉस (Bigg Boss) के घर में हिंसा होना अब लगता है आम बात हो गई है। इंसान को हल्की-सी ठोकर भी लग जाए तो वह उसे हिंसा का नाम दे देता है

 
sd
कॉन्ट्रोवर्शियल रियलिटी शो बिग बॉस 16 में आपने देखा कि कैसे शालीन भनोट और एमसी स्टैन की लड़ाई में शिव ठाकरे बीच में आए। उन्होंने शालीन से स्टैन को छुड़ाया और इस बीच जो हुआ उसका मुद्दा अंकित गुप्ता और प्रियंका चाहर चौधरी ने बना दिया। साथ ही शालीन भनोट भी हां में हां मिलाने लगे। हालांकि बिग बॉस ने कन्फेशन रूम में बुलाकर बताया कि शिव सिर्फ छुड़ा रहे थे। लेकिन एमसी स्टैन को उन्होंने फटकारा था। जबकि शालीन उनको बेघर करने की मांग कर रहे थे। हालांकि ऐसा तो नहीं हुआ लेकिन बिग बॉस ने उनको सजा दे दी है।

बिग बॉस (Bigg Boss) के घर में हिंसा होना अब लगता है आम बात हो गई है। इंसान को हल्की-सी ठोकर भी लग जाए तो वह उसे हिंसा का नाम दे देता है। जैसा शुरू में अर्चना गौतम ने शालीन भनोट के साथ किया। कैप्टेंसी के टास्क में शालीन सूटकेस लेकर जा रहे थे। बीच में अर्चना गौतम आ गई थीं। अब अग्रेशन में शालीन का वो सूटकेस अर्चना को लग गया। इसके बाद पूरा घर शालीन (Shalin Bhanot) के खिलाफ खड़ा हो गया। उन्होंने अर्चना गौतम का साथ दिया और शालीन को बेघर करने की मांग की। हालांकि बिग बॉस ने ऐसा नहीं किया। बस उनको सजा के तौर पर सभी कैप्टेंसी टास्क से हटा दिया और दो हफ्ते के लिए नॉमिनेट कर दिया।

From around the web