anant tv

 काबुल में गुरुद्वारे पर हुए हमले की अफगान नेताओं और संयुक्त राष्ट्र ने कड़ी आलोचना की

 
as

 काबुल में गुरुद्वारे पर हुए हमले की अफगान नेताओं और संयुक्त राष्ट्र ने कड़ी आलोचना की। अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति हामिद करजई ने हमले की निंदा की और इसे 'आतंकवादी घटना' करार दिया। अफगान उच्च शांति परिषद के पूर्व अध्यक्ष अब्दुल्ला अब्दुल्ला ने भी हमले की निंदा की। मैं कार्ते परवान में हमारे सिख समुदाय के गुरुद्वारे पर हुए जघन्य और कायराना आतंकवादी हमले की कड़ी निंदा करता हूं।

अफगानिस्तान में संयुक्त राष्ट्र सहायता मिशन ने ट्विटर पर कहा कि वह काबुल में एक सिख गुरुद्वारे हमले की कड़ी निंदा करता है। उसने कहा कि आम नागरिकों पर हमला फौरन रुकना चाहिए और अफगानिस्तान में सभी अल्पसंख्यकों की सुरक्षा का आह्वान किया। बता दें कि, अफगानिस्तान में एक समय था जब हजारों हिंदू और सिख रहते थे लेकिन, अब केवल गिनती 20 घर बचे हैं। जो वो भी अब भारत वापस आना चाहते हैं।

From around the web