anant tv

 रूसी रक्षा मंत्रालय ने खारकीव शहर से सैनिकों की वापसी की घोषणा कर दी है।

 
AS

यूक्रेन पर रूस के हमले को 200 से ज्यादा दिन बीत चुके हैं लेकिन यूक्रेन ने घुटने नहीं टेके। 24 फरवरी को रूस ने यूक्रेन पर हमला किया था। अब रूसी रक्षा मंत्रालय ने खारकीव शहर से सैनिकों की वापसी की घोषणा कर दी है। यूक्रेन के सैनिक विरोधी सैनिकों पर अच्छी-खासी बढ़त हासिल कर ली है। हालांकि जंग के इन 200 दिनों में यूक्रेन के लोगों का बहुत शोषण हुआ है। यहां मानवाधिकार की धज्जियां उड़ाई गई हैं। 

यूक्रेन केअब तक  5,767 यूक्रेनी आम ननागरिक मारे गए हैं जिनमें से 383 बच्चे हैं। रूस के हमले की वजह से 20 लाख लोग पलायन कर गए हैं और 233 बच्चे ऐसे हैं जो कि लापता हैं। वहीं 31,814 रूस के युद्ध अपराधों की जांच हो रही है। रूस ने यूक्रेन पर 3500 से ज्यादा मिसाइलें दागी हैं। 

यह भी कहा गया है कि यूक्रेन ने अपने सैनिकों के मौत के आंकड़े जारी नहीं किए हैं। अनुमान लगाया जा रहा है कि सैनिकों की मौत के आंकड़े कहीं ज्यादा होंगे। इसके अलावा बहुत सारे सैनिकों को युद्ध बंदी भी बनाया गया होगा। वहीं खारकीव में विजय की घोषणा कर चुके राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की का कहना है कि सर्दियों में युद्ध कीव के पक्ष में होगा। उनका कहना है कि जल्द ही उन्हें और शक्तिशाली हथियार मिलने वाले हैं। 

यूक्रेन के रक्षामंत्री ने कहा, खारकीव से हमने फिर से जंग शुरू की है। ना केवल दक्षिण और पूर्व में बल्कि उत्तर की भी तरफ हम बढ़ रहे हैं। सीमा तक पहुंचने में केवल 50 किलोमीटर है। उन्होंने कहा कि यूक्रेन की सेना ने फिर से 3 हजार वर्ग किलोमीटर में कब्जा कर लिया है। वहीं रूस की सेना का कहना है कि खारकीव में भीषण जंग चल रही है और उसकी सेना मुंहतोड़ जवाब दे रही है। 

From around the web