anant tv

 अक्षर, शब्द, अर्थ एवं छंद का ज्ञान देने वाली भगवती सरस्वती अपने श्रद्धालुओं पर विशेष कृपा देती हैं।

 
xdvf

बसंत पंचमी के पावन पर्व के दिन मां सरस्वती की खास पूजा आराधना की जाती है। मां सरस्वती को विद्या एवं बुद्दि का दाता कहा जाता है। इस दिन विद्या का अध्ययन करने वालों सभी को मां सरस्वती की पूजा अर्चना अवश्य करनी चाहिए। बसंत पंचमी के पावन दिन मां के लिए व्रत रखें तथा हो सके तो इन मंत्रों का शुद्ध उच्चारण करें। अक्षर, शब्द, अर्थ एवं छंद का ज्ञान देने वाली भगवती सरस्वती अपने श्रद्धालुओं पर विशेष कृपा देती हैं। बसंत पंचमी यानी मां सरस्वती के जन्मदिन पर देवी को प्रसन्न करने के लिए राशि अनुसार वंदना करें। राशि के अनुसार मंत्र जपने से मां शारदा सुख, संपत्ति, विद्या, बुद्धि, यश, कीर्ति, पराक्रम, प्रतिभा एवं विलक्षण वाणी का आशीष प्रदान करती है। वही इन मन्त्रों के जाप से आपको अवश्य सफलता मिलेगी…

राशि के अनुसार सरस्वती मंत्र:-
मेष- ॐ वाग्देवी वागीश्वरी नम:
वृषभ- ॐ कौमुदी ज्ञानदायनी नम:
मिथुन- ॐ मां भुवनेश्वरी सरस्वत्यै नम:
कर्क- ॐ मां चन्द्रिका दैव्यै नम:
सिंह- ॐ मां कमलहास विकासिनी नम:
कन्या- ॐ मां प्रणवनाद विकासिनी नम:
तुला- ॐ मां हंससुवाहिनी नम:
वृश्चिक- ॐ शारदै दैव्यै चंद्रकांति नम:
धनु- ॐ जगती वीणावादिनी नम:
मकर- ॐ बुद्धिदात्री सुधामूर्ति नम:
कुंभ- ॐ ज्ञानप्रकाशिनी ब्रह्मचारिणी नम:
मीन- ॐ वरदायिनी मां भारती नम:

From around the web