anant tv

मालिश दिन में किसी भी समय की जा सकती है, लेकिन मालिश का अधिक से अधिक लाभ लेने के लिए यह महत्वपूर्ण है कि इसे कम व्यस्त समय में किया जाए

 
dsf

कोरोना वायरस महामारी का यह तीसरा वर्ष है और और इसकी तीसरी लहर ने दुनिया को झकझोर कर रख दिया है. ओमिक्रोन कोरोना वायरस का प्रमुख संस्करण बन गया है. यह बीमारी फिर के दुनियाभर के कई देशों में तेजी से फैल रहा है और रोजाना हजारों लोगों इससे संक्रमित हो रहे हैं. ऐसे में अपने शरीर का इम्यून सिस्टम मजबूत रखना बेहद जरूरी हो गया है. एक हेल्दी डाइट और नियमित व्यायाम से इम्यून सिस्टम को बूस्ट करने में मदद मिलती है. हालांकि ऐसे अन्य तरीके भी हैं जो इम्युनिटी को बूस्ट देने में मदद करते हैं. शरीर की मालिश (बॉडी मसाज) करवाना इम्युनिटी में सुधार करने के तरीकों में से एक है.

मसाज के फायदे
शरीर की मालिश करने से ब्लड सर्कुलेशन अच्छा होता है, जिससे शरीर में पोषक तत्वों को ट्रांसफर करने और मेटाबॉलिज्म गंदगी को फिल्टर करने में मदद मिलती है. मालिश दर्द और तनाव को कम करने में भी मदद करती है, जो इम्यूनिटी को नेगेटिव रूप से प्रभावित करते हैं. चूंकि तनाव और इससे जुड़े अन्य मेंटल फैक्टर को मालिश से कम किया जाता है, यह दिमाग की सेहत को आकार देने और इसे बेहतर बनाने में मदद करता है. एक बेहतर मेंटल हेल्थ का संबंध बेहतर इम्युनिटी से रहा है. अध्ययनों से यह भी पता चला है कि मालिश शरीर में लिम्फोसाइटों (सेल्स जो इम्युनिटी को मजबूत बनाए रखने में मदद करती हैं) की संख्या को बढ़ाने में भी मदद करती है.

From around the web