anant tv

आप कुछ घरेलू नुख्से आजमाकर भी काफी हद तक सर्वाइकल की समस्या ठीक कर सकते हैं।

 
sd

सर्वाइकल पेन हड्डियों से जुड़ी एक समस्या है जिसकी वजह से गर्दन में तेज दर्द होता है। ​​​सर्वाइकल पेन के कारण आजकल बूढ़े-बुजुर्गों के साथ-साथ युवा पीढी भी परेशान है।

सर्वाइकल का दर्द होने का मुख्य कारण खराब लाइफस्टाइल या घर या ऑफिस में गलत तरीके से कुर्सी में लम्बे समय तक बैठना या झुककर काम करने से ज्यादातर लोगो को इस समस्या का सामना करना पड़ता है।

सर्वाइकल के दर्द से छुटकारा पाने के लिए कुछ लोग गर्दन का व्यायाम , योगा आदि करते हैं। ऐसा करने से उन्हें कुछ देर के लिए थोड़ा आराम मिल जाता है, लेकिन कुछ समय बाद दुबारा सर्वाइकल पेन शुरू हो जाता है।

अगर आप सर्वाइकल की समस्या से जूझ रहें हैं तो आपको डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए। इसके अलावा आप कुछ घरेलू नुख्से आजमाकर भी काफी हद तक इसे ठीक कर सकते हैं।

सर्वाइकल के कारण – Causes of Cervical in Hindi

सर्वाइकल होने के कई कारण हो सकते हैं जैसे –

  • गर्दन को देर तक झुकाये रखने से।
  • ज्यादा देर तक एक ही पोजीशन में बैठे रहने से।
  • गलत पोजीशन में सोने से।
  • भारी वजन सिर पर उठाने से।
  • गर्दन पर लगी कोई पुरानी चोट के कारण।

सर्वाइकल के लक्षण – Symptoms of Cervical in Hindi

सर्वाइकल पेन होने पर शरीर को कई सारी समास्याएं होने लगती हैं जैसे –

  • कंधे और गर्दन में दर्द होना।
  • गर्दन हिलाने पर दर्द होना।
  • गर्दन के आसपास मांसपेशियों में अकड़न।
  • छींकने, खांसने और हंसने के दौरान गर्दन में दर्द होना।
  • कंधों या बाजुओं में सुन्नपन होना।

सर्वाइकल का रामबाण उपचार – Cervical Ka Gharelu Ilaj

गर्दन की हड्डी हमारे शरीर की सबसे ज़्यादा इस्तेमाल होने वाली हड्डियों में से एक है। यह सिर के वजन को संभाले रहती है। इसलिए इसे चोट लगने या दर्द होने पर शरीर पर कई समस्यायों का सामना करना पड़ता है।

सर्वाइकल पेन के कारण गर्दन और कंधे में दर्द होता है जिसका इलाज जितना जल्दी हो उतना ही बढ़िया रहता है। तो चलिए जानते हैं कि सर्वाइकल का रामबाण उपचार करने के लिए घरलेू उपाय कौन-कौन से हैं।

1.) सर्वाइकल का घरेलू इलाज है हल्दी

हल्दी में एंटी-इंफ्लेमेटरी और दर्द निवारक गुण पाए जाते हैं जो नैचुरल तरीके से सर्वाइकल पेन खत्म कर देती है। इसके लिए एक गिलास गर्म दूध में एक चम्मच हल्दी पाउडर मिलाकर रात में सोने से पहले पियें। इससे शरीर का दर्द दूर होने साथ-साथ ब्लड सर्कुलेशन भी अच्छी तरह से होता है।

2.) सर्वाइकल का रामबाण उपचार है लहसुन

लहसुन में कैल्शियम, फॉस्फोरस, और विटामिन सी के गुण पाए जाते हैं जो गर्दन और जोड़ों के दर्द में काफी आराम दिलाते हैं। सर्वाइकल का रामबाण उपचार करने के लिए रोजाना सुबह 2 कली भूनकर सेवन कर सकते हैं।

इसके अलावा सरसों के तेल में 4-5 लहसुन की कली डालकर हल्का गर्म कर लें। अब इस तेल से रोजाना दर्द वाली जगह पर मालिश करें।

3.) सर्वाइकल पेन का घरेलू इलाज है तिल का तेल

तिल का तेल में कॉपर, मैग्नीशियम, फॉस्फोरस और अन्य कई ऐसे गुण पाए जाते हैं जो सर्वाइकल पैन से छुटकारा दिलाने में मदद कर सकते हैं।

इसके लिए तिल के तेल को हल्का गुनगुना करके रोजाना दर्द वाली जगह पर लगाकर मालिश करने से आपका दर्द दूर हो जाएगा।

6.) सर्वाइकल का रामबाण इलाज है नीम

नीम में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण मौजूद होते हैं, जो सर्वाइकल के दर्द को दूर करने में कारगर होते हैं। इसके लिए नीम की पत्तियों को पीसकर पेस्ट बना लें। उसके बाद इस पेस्ट को थोड़ा सा गर्म कर लें।

अब इसे दर्द वाली जगह पर लगाकर कुछ देर के लिए छोड़ दें। लगभग आधे घंटे बाद इसे गुनगुने पानी से धो लें।

7.) सर्वाइकल का घरेलू उपाय है अरंडी का तेल

अरंडी के तेल में रिसिनोलिक नामक एसिड पाया जाता है जो सर्वाइकल के करना होने वाले दर्द और सूजन को दूर करने में मदद कर सकता है। सर्वाइकल का रामबाण उपचार करने के लिए अरंडी के तेल से दर्द वाली जगह पर मालिश करें।

From around the web