किडनी को स्‍वास्‍थ्‍य रखना है तो इन बातो का रखें खास ख्‍याल

 

शरीर को तंदुरुस्त रखने के लिए किडनी का सेहतमंद होना जरूरी है।किडनी हमारी बॉडी का अहम हिस्सा है जिसका काम खून को साफ करना, रेड ब्लड सेल्स का निर्माण और पानी का संतुलन बनाए रखना है। हमारी डाइट का सबसे ज्यादा असर हमारी किडनी पर पड़ता है।आप ऑयली फूड का ज्यादा सेवन करते हैं तो आपकी किडनी फैटी हो जाती है और आपको कई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। किडनी हमारे शरीर में पानी और खून को शुद्ध करके मल और यूरिन के जरिए टॉक्सिन्स को बाहर निकालती है।

 पिछले कुछ वर्षों से भारत में लोगों की किडनी खराब होने की समस्या तेजी से उभर रही है। किडनी में खराबी या फैटी किडनी किसी भी उम्र हो सकती है। इस बीमारी के लिए आपका लाइफस्टाइल और आपका खान-पान जिम्मेदार है। आप भी किडनी की परेशानी से बचना चाहते हैं तो अपने लाइफस्टाइल और खान-पान में सुधार कीजिए। जानिए कैसे आप किडनी फेलियर की समस्या से बच सकते है।

किडनी की सेहत के लिए सबसे जरूरी है आपका आहार। आप किडनी की बीमारियों से बचना चाहते हैं तो सबसे पहले अपना डाइट पैटर्न सुधारें। पौष्टिक आहार का सेवन करें। खाने में सालाद, रोटी, दाल और हरी सब्जियों का सेवन करें। खाने में ऑयल का कम सेवन करेंगे तो आपकी किडनी सेहतमंद रहेगी।

नमक भी आपकी किडनी की सेहत को बिगाड़ सकता है। खाने में नमक का सेवन कम करें, प्रतिदिन केवल 5 से 6 ग्राम नमक ही लेना चाहिए।

बाहर का खाना खाने से परहेज करें। बाहर के खाने में मसालें और तेल का अत्याधिक सेवन होता है जो आपकी सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है।

पानी कम पीते है तो सबसे पहले अपनी इस आदत को बदलें। ज्यादा पीने पीएं और कोशिश करें कि दिन भर में कम से कम डेढ़ से दो लीटर पानी का इस्तेमाल करें। ज्यादा पानी पीने से किडनी से सोडियम, यूरिया और जहरीले तत्व साफ हो जाते हैं जिससे किडनी की बीमारी लगने का खतरा कम रहता है।

अगर आपको ब्लड प्रेशर या शुगर की परेशानी है तो आप अपना बीपी और शुगर को नियंत्रित रखें। बीपी और शुगर की दवाई का इस्तेमाल करें। आपको पता है कि डायबिटीज वाले लोगों की किडनी क्षतिग्रस्त होने का खतरा रहता है।

इन बातों का रखें खास ख्याल
स्मोकिंग करने से बचें:
धूम्रपान करते है तो इससे परहेज करें। धूम्रपान रक्त का बहाव कम करता है, और इससे किडनी के कैंसर का खतरा भी 50 प्रतिशत बढ़ जाता है।

वजन को कम करें:
आप सेहतमंद रहना चाहते हैं अपना वजन कम करें। अपनी हाइट के मुताबिक अपना वजन करें। वर्कआउट करें।

दवाइयों का इस्तेमाल कम करें:
छोटी सी परेशानी में भी आपको दवाई खाने का शौक है तो दवाइयों के अंधाधुन इस्तेमाल पर कंट्रोल करें। पेन किलर या दर्द निवारक दवाओं का इस्तेमाल आपकी किडनी को नुकसान पहुंचा सकता हैं।

नोट -उपरोक्‍त दी गई जानकारी व सुझाव समान्‍य जानकारी के लिए हैं इन्‍हें किसी प्रोफेशनल डॉक्‍टर की सलाह के रूप में न समझें । कोई भी बीमारी या परेंशानी होने की स्थिति हो तो डॉक्‍टर की सलाह जरूर लें ।

From around the web