कृष्णा फल बैंगनी रंग से लेकर पीला और सुनहरे रंग का भी होता है

 
ok

 कृष्णा फल एक ब्राजीलियन फल है, लेकिन आज तमाम देशों में इसकी खेती होने लगी है। भारत की बात करें तो नागालैंड, केरल, कर्नाटक, मिजोरम और मेघालय जैसे राज्यों में इसका काफी उत्पादन किया जाता है। कृष्णा फल बैंगनी रंग से लेकर पीला और सुनहरे रंग का भी होता है। स्वाद में ये मीठा-खट्टा और बीजयुक्त होता है। इस फल में फाइबर, कार्ब्स, पोटेशियम, सोडियम, विटामिन सी, ए, डी, के, ई, आयरन, फास्फोरस, एंटीऑक्सीडेंट आदि ढेरों पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो इंसान की शारीरिक और मानसिक सेहत के लिए काफी उपयोगी हैं। हालांकि ये फल किसी बीमारी की औषधि तो नहीं है, लेकिन इसके सेवन से आपके शरीर को वो पोषक तत्व जरूर मिल जाएंगे जो काफी बीमारियों से आपको बचाने में मददगार साबित होंगे। यहां जानिए कृष्णा फल के ढेरों फायदे।

हार्ट

पैशन फ्रूट को हार्ट के लिए भी काफी लाभकारी माना जाता है। इसमें पोटैशियम होता है, साथ ही इलेक्ट्रोलाइट होता है, जो दिल को दुरुस्त रखने का काम करता है। इसे खाने से हार्ट अपना काम बेहतर तरीके से करता है और हृदय रोग का ​जोखिम कम होता है।

ऑस्टियोपोरोसिस

इस फल में मैग्नीशियम, कैल्शियम, आयरन, फॉस्फोरस, पोटैशियम आदि ऐसे तमाम तत्व पाए जाते हैं, जो हड्डियों की डेन्‍सिटी को बनाए रखते हैं। इसके सेवन से ऑस्टियोपोरोसिस जैसी परेशानी का रिस्क कम होता है।

डायबिटीज

कृष्णा फल के सेवन से व्यक्ति का डायबिटीज से बचाव होता है। वहीं जो लोग डायबिटीज के रोगी हैं, उनके लिए भी ये फल काफी लाभकारी माना जाता है। इस फ्रूट में कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स और उच्च मात्रा में फाइबर होता है। ये इंसुलिन के स्तर को नियंत्रित रखने में मददगार माना जाता है। इसे खाने से मधुमेह रोगियों को काफी देर तक भूख का अहसास नहीं होता और उनका वजन भी नहीं बढ़ता।

अस्थमा

कहा जाता है कि यदि इसके छिलके के अर्क का सेवन किया जाए तो अस्थमा की समस्या और सांस फूलने की समस्या में काफी राहत मिलती है। इसका फल भी सांस के रोगियों के लिए लाभकारी होता है। लेकिन कृष्णा फल को ठंडी तासीर का माना जाता है, इसलिए किसी विशेषज्ञ के परामर्श के बाद ही इसका सेवन करें।

इम्यून सिस्टम

पैशन फ्रूट में पैशन फ्रूट में विटामिन सी, बीटा-क्रिप्टोक्सांथिन और अल्फा-कैरोटीन होता है, जो आपके इम्यून सिस्टम को मजबूत करने का काम करते हैं। इम्युनिटी मजबूत होने से शरीर का कई बीमारियों से बचाव होता है। वहीं आयरन से समृद्ध होने के कारण ये शरीर में खून की कमी नहीं होने देता। इसके नियमित सेवन से एनीमिया से बचाव होता है।

From around the web