रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत कर जीतेंगे कोरोना से जंग: सीएम

रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत कर जीतेंगे कोरोना से जंग: सीएम

 
रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत कर जीतेंगे कोरोना से जंग: सीएम

अनोखे लाल द्विवेदी  विशेष संवाददाता भोपाल |

  प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने स्वास्थ्य आग्रह के दौरान सुबह भोपाल के मिंटो हाल में योगाभ्यास किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना वायरस महामारी में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए योग प्राणायाम बहुत ही जरूरी है। जब रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत होगी तभी इस जैसी महामारी से जंग जीत पाएंगे। उधर छिंदवाड़ा से कांग्रेस सांसद नकुल नाथ ने सीएम शिवराज सिंह चौहान द्वारा चलाए गए मास्क अप एमपी अभियान का समर्थन किया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि मैं स्वयं भी लोगों को मास्क पहनने और शारीरिक दूरी के लिए जागरूक कर रहा हूं। मेरा आपसे आग्रह है कि इस अभियान के साथ ही कोविड-19 के उपचार हेतु स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को और बेहतर करने का कष्ट करें। इसके पहले सीएम शिवराज ने कल कहा, मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण बढ़ रहा है। इस पर नियंत्रण के लिए लाकडाउन एक उपाय है। सबकुछ बंद कर दो, लेकिन यह अर्थव्यवस्था को बर्बाद कर देगा। सीमित लाकडाउन ठीक है। जो लोग मास्क नहीं पहन रहे हैं, वे अपने और समाज के प्रति अपराध कर रहे हैं। अपने साथ दूसरों को भी संक्रमित कर रहे हैं। आत्म अनुशासन जरूरी है। मास्क पहनें, सुरक्षित शारीरिक दूरी रखें, बार-बार हाथ धोएं, टीका लगवाएं। इसके लिए लोगों को जागरूक करना पड़ेगा और इसीलिए मैं 24 घंटे के स्वास्थ्य आग्रह पर बैठा हूं। उन्होंने कहा कि आज ही के दिन महात्मा गांधी की दांडी यात्रा का समापन हुआ था। गांधीजी ने सत्याग्रह किया और देश को आजाद कराया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वच्छ आग्रह किया और देश को स्वच्छ बना दिया। अब मैं स्वास्थ्य आग्रह कर रहा हूं। उन्होंने कहा- कोरोना संक्रमण पर केवल सरकारी प्रयासों से नियंत्रण नहीं किया जा सकता। समाज के व्यवहार में बदलाव आवश्यक है। कोरोना गाइडलाइन के पालन का व्यवहार अपनाकर समाज सहयोग करे। बाकी व्यवस्था सरकार करेगी। संक्रमण रोकने के लिए समाज को जागरूक होना पड़ेगा। इसलिए मैंने सोचा कि लोगों से नैतिक आग्रह करूं। शिवराज सिंह ने कहा कि समाज के सभी लोग नियम बना लें कि मैं और मेरा परिवार मास्क लगाएगा और दूसरों को भी लगवाऊंगा। मैंने भी अपने परिवार को मास्क पहनाया है। मैं यहां बैठा नहीं रहूंगा। लगातार काम करूंगा। समाज के अलग-अलग वर्गों से बात करूंगा। सुरक्षित दूरी बने रहे इसलिए पार्टी कार्यकर्ताओं से आग्रह किया है कि वे यहां नहीं आए। मास्क का मतलब उन्होंने बताया कि मेरा-आपका सुरक्षा कवच।

From around the web