नये ओर पुराने शहर मे पुलिस की कोरोना कर्फ्यू कार्यवाही को ले

नये ओर पुराने शहर मे पुलिस की कोरोना कर्फ्यू कार्यवाही को लेकर उठ रहे सवाल

 
नये ओर पुराने शहर मे पुलिस की कोरोना कर्फ्यू कार्यवाही को लेकर उठ रहे सवाल


अनोखे लाल द्विवेदी  विशेष संवाददाता भोपाल |  

 राजधानी मे कोरोना कर्फ्यू को लेकर शहर के सख्ती बरतने के दावे तो किये जा रहे है लेकिन पुलिस द्वारा रोजाना की जाने वाली कार्यवाही के आंकड़े बताते हैं, कि नए शहर में तो बिना कारण बगैर मास्क के सड़कों पर घूमने वालों पर कार्रवाई हो रही है, लेकिन पुराने शहर में सुस्ती बरती जा रही है। राजधानी में कोरोना कर्फ्यू को लगे चार सप्ताह का समय होने वाला है। इसके बाद भी न तो संक्रमण से बचने के लिये लोग लापरवाही बरत रहे है, ओर कोरोना कर्फ्यू का उल्लंघन कर रहे हैं। पुलिस ने शहर की अधिकांश प्रमुख सड़कों को बंद कर दिया है। लोगों को कई-कई किलोमीटर का चक्कर लगाते हुए वैकल्पिक रास्तों से जाना पड़ रहा है। बोर्ड ऑफिस, रोशनपुरा चौराहा, कोलार तिराहा, होश्गाबाद रोड, चेतक ब्रिज समेत सभी इलाकों में चैकिंग प्वाइंट पर पुलिसकर्मियों को तैनाती की गई है। यहां पर पूछताछ भी की जा रही है। वही इस दौरान कई तरह की सेवाओं को जरूरी मानते हुए छूट दी गई है, इसलिए इन सेवाओं की आड़ में ऐसे लोग भी सड़कों पर घूम रहे हैं, जिन्हें पात्रता है ही नहीं। कर्फ्यू के दौरान पुलिस भी नए शहर में ज्याद सख्ती बरत रही है, जबकि पुराने शहर में पुलिसिया कार्रवाई में सुस्ती देखी जा रही है। बीते दिन पुलिस ने नए शहर की टीटी नगर पुलिस 13, कमलानगर ने 4, जहांगीराबाद ने 4, ऐशबाग ने 4, कोलार ने 3 अयोध्या नगर ने 4 तथा एमपी नगर पुलिस ने 3 लोगों के खिलाफ कोरोना कर्फ्यू उल्लंघन करने पर प्रकरण दर्ज किया है। इसके अलावा नए शहर के अशोका गार्डन, चूनाभट्टी, रातीबड़, मिसरोद, कटारा हिल्स तथा मिसरोद पुलिस ने भी बगैर मास्क पहनकर घूम रहे लोगों पर कार्रवाई की, वहीं दूसरी ओर पुराने शहर पुलिस की कार्रवाई सुस्त नजर आ रही है। यहां पर सबसे ज्यादा कोतवाली पुलिस ने 7 लोगों के खिलाफ कार्रवाई है। बाकी थाना क्षेत्रों टीलाजमालपुरा, हनुमानगंज, गौतम नगर, निशातपुरा, बैरागढ़ गांधी नगर, व खजूरी सड़क में एक-एक व्यक्ति के खिलाफ ही कार्रवाई की गई है।

From around the web