anant tv
anant tv

आगामी दिनों मौसम का मिजाज इसी तरह बना रहेगा। पारे में अप और डाऊन जारी रहेगा

 
ok

 पारे की चाल के अप और डाऊन के बीच ठंड से फिलहाल राहत है। वहीं मौसम के मिजाज में अधिक बदलाव के आसार भी नहीं है। इसलिए नवंबर अंत तक कड़ाके की ठंड पड़ने की उम्मीद नहीं है। मानसून की विदाई के साथ ही अक्टूबर में ही ठंडक बढ़ गई थी। लेकिन बीते दिनों बने सिस्टम के प्रभाव से बादल छाने से रात के तापमान में बढ़ोत्तरी होने लगी थी और ठंड का अहसास ना के बराबर हो गया है। मौसम विज्ञानियों का कहना है कि वर्तमान में कोई सिस्टम सक्रिय नहीं है, लेकिन प्रदेश में निचले स्तर पर हवा का रुख उत्तरी बना है, जबकि ऊपर के स्तर पर पूर्वी हवा चल रही है। इस वजह से न्यूनतम तापमान में अपेक्षित गिरावट नहीं हो रही है। यही वजह है कि अभी कड़ाके की ठंड पड़ने की उम्मीद कम है।

मौसम विज्ञान केंद्र के मौसम विज्ञानी पीके साहा ने बताया कि इस सीजन में प्रदेश के मौसम पर पश्चिमी विक्षोभ का प्रभाव पड़ता है। जबकि अन्य सिस्टम प्रदेश के मौसम को अधिक प्रभावित नहीं करते हैं। वर्तमान में पाकिस्तान के मध्य में हवा के ऊपरी भाग में चक्रवात बना हुआ है। इसके 27-28 नवंबर को पश्चिमी राजस्थान की तरफ बढ़ने की संभावना है। इस सिस्टम के आने पर इसका असर प्रदेश के मौसम पर पड़ने की संभावना है। जिससे तापमान में बढ़ोत्तरी हो सकती है। बंगाल की खाड़ी में 29 नवंबर को एक कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है। हालांकि इस सिस्टम से मप्र के मौसम पर विशेष प्रभाव नहीं पड़ेगा।

मौसम के मिजाज में नहीं होगा अधिक बदलाव :

साहा ने बताया कि वर्तमान में कोई सक्रिय सिस्टम नहीं है। हवा की दिशा उत्तरी है लेकिन इसमें भी परिवर्तन हो रहा है। कभी उत्तर-पूर्वी हवा है तो कभी उत्तर-पश्चिमी। हवा की गति भी कम है। निचले स्तर पर हवा का रुख उत्तरी बना है, जबकि ऊपर के स्तर पर पूर्वी हवा चल रही है। इस वजह से रात के पारे में अपेक्षाकृत गिरावट नहीं हो रही है। आगामी दिनों मौसम का मिजाज इसी तरह बना रहेगा। पारे में अप और डाऊन जारी रहेगा। नवंबर के शेष दिनों में कड़ाके की ठंड पड़ने के आसार नहीं हैं।

पारे का अप-डाउन :

गुरुवार को राजधानी का अधिकतम तापमान सामान्य से एक डिग्री अधिक 29.6 डिग्री दर्ज किया गया। यह बुधवार के अधिकतम तापमान के मुकाबले डेढ़ डिग्री कम रहा। न्यूनतम तापमान सामान्य से दो डिग्री अधिक 15.6 डिग्री रिकार्ड किया गया। 12-14 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से उत्तर-पूर्वी हवा चल रही है, बीच-बीच में हवा की दिशा उत्तर-पश्चिमी भी हुई है।

From around the web